सरकारी फंड व ऑर्डर पाने के लिए अधिकारियों को लड़कियों की सप्लाई की: रिपोर्ट

मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण मामले में एक के बाद एक सामने आ रहे खुलासे ने पूरे देश को हैरान करके रख दिया है।मुजफ्फरपुर कांड में मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर सेक्स रैकेट चलाता था। वह इसका इस्तेमाल सरकारी फंड और ऑर्डर पाने के लिए करता था। मुजफ्फरपुर पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिकउसके तार नेपाल से लेकर बांग्लादेश तक जुड़े हुए थे। 

चेतावनियों को किया गया नजरअंदाज 

पुलिस स्‍टेशन से मात्र दो किमी दूर स्थित इस शेल्‍टर होम के बारे में दिसंबर 2016 में चेतावनी दी गई थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस इलाके में नए-नए आए डॉक्‍टर ने बच्चियों का चेकअप किया था और पाया था कि वे चिड़चिड़ी हो गई थीं और डरी हुई थीं। डॉक्‍टर ने अधिकारियों को सौंपी अपनी रिपोर्ट में कहा था कि बच्चियों को पारिवारिक माहौल की जरूरत है। 


नवंबर महीने में आई थी हॉरर होम की 
चेतावनी

इस हॉरर होम के बारे में एक और चेतावनी पिछले साल नवंबर महीने में आई थी जब बिहार बाल संरक्षण आयोग की टीम ने वहां का दौरा किया था। टीम ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि आयोग के सदस्‍यों से मिलकर बच्चियों ने रोना शुरू कर दिया। बच्चियों ने शिकायत की कि उनकी पढ़ाई और कौशल विकास के लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया है।आयोग की इस रिपोर्ट के बाद अधिकारियों ने उस पर कोई ध्‍यान नहीं दिया। टाटा इंस्‍टीट्यूट की टीम आने के बाद इस साल फरवरी महीने में बच्चियों के साथ रेप का खुलासा हुआ। 

रूतबे का पूरा इस्तेमाल

यह केस सीबीआई को सौंपे जाने से पहले एक रिपोर्ट  तैयार की गई,जिसमे बताया गया अभियुक्त ब्रजेश ने अवैध तरीके से काफी पैसा कमाया है। वह कई गैर सरकारी संस्थाओं से जुड़ा हुआ है। इनमें उसके रिश्तेदार और अन्य जानने वाले उसमें महत्वपूर्ण स्थान पर कार्यरत  थे। उसने अपने रूतबे का पूरा इस्तेमाल किया। यह साक्ष्य है की विज्ञापन के प्रावधान के मानकों के अनुरूप खरा  न उतरने के बावजूद ब्रजेश को सरकारी अधिकारियों की सिफारिश पर समस्तीपुर स्थित सहारा ओल्ड एज होम चलाने की जिम्मेदारी सौंपी दी गई थी।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि बिहार स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी (बीआईएसएसीएस) ने ब्रजेश के एक एनजीओ से यह कहा कि वे  योजनाओ को बिना प्रक्रिया का पालन किए चलाए, जिनमें विज्ञापन भी शामिल है। ऐसा संदेह है कि वह इन योजनाओं को पाने के लिए बीआईएसएसीएस के भ्रष्ट अधिकारियों को लड़कियों की सप्लाई करता था। 

 

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *