माउंट एल्ब्रूस की चोटी पर हरियाणा की छोरी

हरियाणा की बेटी ने माउंट एल्ब्रूस पर लहराया तिरंगा,  दिया ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ का संदेश

हरियाणा के गांव सुदकैन खुर्द की बेटी ने वो कारनामा कर दिखाया जो आजतक किसी ने नहीं किया। हरियाणा की एक और बेटी ने प्रदेश का नाम रोशन किया है। इस बेटी ने छोटे से गांव से निकलकर सात समुन्द्र पार यूरोप की सबसे ऊंची चोटी पर पहुंचकर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का संदेश दिया।

माउंट एल्ब्रूस को फतह करने के बाद विकास राणा स्कीइंग करते हुए नीचे आई और ऐसा करने वाली वो विश्व की इकलौती खिलाड़ी बन गई है। विकास राणा हरियाणा की एकमात्र स्कीइंग प्लेयर भी है। उन्होंने इस ऊंचाई पर पहुंचकर देश की बेटियों के नाम संदेश भेजा है।

बेटी दुनिया की हर ऊंचाई को छू सकती है: राणा

राणा ने कहा कि भारत की बेटी दुनिया की हर ऊंचाई को छू सकती है, बस जरूरत है तो घर से निकलने की। इससे पहले वह अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो भी फतह कर चुकी है। वह कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रिकॉर्ड कायम कर अपना नाम कर चुकी हैं।

पंजाब एवं हरियाणा की इकलौती स्कीइंग खिलाड़ी विकास राणा पिछले दिनों साउथ अफ्रीका की किलीमंजारो चोटी को फतह कर तिरंगा लहराकर आई थीं। विकास की बहन अंजलि राणा ने बताया कि 2018 के नेशनल स्कीइंग गेम गुलबर्ग में सिल्वर मेडल और जापान में भारत का इस खेल में विकास प्रतिनिधित्व कर चुकी है और इंटरनेशनल इकलौती प्लेयर हैं।

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *