अब मोबाइल में चेक कराएँ आरसी और ड्राइविंग लाइसेंस

अब लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस, आरसी जैसे कागजात हर समय अपने साथ लेकर चलने की जरुरत नही है। यह सुविधा मोदी सरकार ने दी है। आईटी एक्ट के प्रावधानों को हवाला देते हुए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों, ट्रैफिक पुलिस को ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेटट और इंश्योरेंस के कागजात डिजिटल रूप में स्वीकार करने की एडवाइजरी जारी की। यह एडवाइजरी परिवहन मंत्रालय की ओर से जारी की गई है।

सरकार ने कहा कि डिजिलॉकर में मौजूद इलेक्ट्रॉनिक रिकॉर्ड्स को कानूनी रूप से ओरिजनल डॉकुमेंट्स की मान्यता देने का प्रावधान आईटी एक्ट-2000 में है।मंत्रालय ने यह भी कहा कि डिजिटल रूप उपलब्ध डॉक्यूमेंट्स मोटर विहिकल एक्ट 1988 के तहत भी उतने ही मान्य हैं जितना की ऑथोरिटी की ओर से  जारी किए गए लाइसेंस मान्य हैं।

सरकार ने गुरुवार को जारी की गई एडवाइजरी में कहा कि यह कागजात डिजिलॉकर या एमपरिवहन ऐप के जरिए चेक किए जा सकते हैं।

कैसे करेगा काम

  • डिजिलॉकर या एमपरिवहन ऐप को अपने मोबाइल फोन पर डाउनलोड कर लें।
  • इसे आधार नंबर दर्ज कर ऑथनटिकेट कर लें।
  • इसके बाद डीएल या रजिस्‍ट्रेशन नंबर उस दस्‍तावेज को ऐप पर डाउनलोड कर लें।
  • जांचकर्ता आपके मोबाइल से क्‍यूआर कोड स्‍कैन कर लेगा और उसे इसका ब्यौरा जांचकर्ता को उपलब्‍ध हो जाएगा।
  • इसके बाद वे सेंट्रल डाटाबेस में अगर कोई उल्‍लंघन होता है तो उसे दर्ज कर पाएंगे।

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *