कुमार स्वामी अपने एमएलए संभालो!

सौरभ भारद्वाज।।

कर्नाटक चुनाव नतीजे आने के बाद कुमार स्वामी को इस समय लग रहा हो कि सरकार की चाबी उनके पास होगी लेकिन अगले चार-छह दिनों में आप देखेंगे कि कुमार स्वामी अपने विधायकों में मचने वाली भगदड़ से जूझते नजर आएंगे। छोटी पार्टी के नेताओं को सत्ता मिलने का भारत का अनुभव कोई बहुत अच्छा नहीं रहा। सबसे पहले बीजेपी सिंगल लार्जेस्ट पार्टी के रूप में अपना सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। ऐसी स्थिति में कुमार स्वामी या तो बाहर से समर्थन देने को मजबूर होंगे या एक तिहाई विधायक नई पॉलिटिकल पार्टी बनाकर बीजेपी के साथ आ जाएंगे यह गुट या तो बाहर से समर्थन देगा या बीजेपी में मिल जाएगा।

जेडीएस का बिखरना तय

लेकिन अगर कुमार स्वामी का कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने का दावा राज्यपाल वाजू भाई वाला ने स्वीकार कर लिया तो भी जूनियर पार्टनर कर्नाटक में सत्ता पा कर अराजकता फैलाएंगे। कांग्रेस इसे नियंत्रित नहीं कर पाएगी। कुमार स्वामी की पार्टी में लूट का अंदाज विधायकों को महत्वाकांक्षी बनाएगा और पार्टी में टूट की सूरत पैदा होगी। यह भी सिर्फ एक साल के भीतर हो जाएगा। दोनों ही सूरतों में जेडीएस का बिखरना तय है। अभी सरकार बनी तब भी और एक साल बाद बीजेपी की सरकार बनी तब भी लोकसभा में बीजेपी इसका लाभ उठाएगी। लेकिन आने वाले सालों में कुमार स्वामी कर्नाटक की राजनीति में अप्रासंगिक हो जाएंगे।

Post Author: VOF Media

"आप बोलिये हम बहरे सिस्टम को भी सुना देंगे..."

1 thought on “कुमार स्वामी अपने एमएलए संभालो!

    Veethika

    (May 15, 2018 - 3:23 pm)

    Great analytical story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *