काशी में शर्मसार हुई इंसानियत, पोस्टमार्टम के लिए मृतकों के परिजनों से मांगे गए रुपए

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में मृतकों के पोस्टमार्टम के लिए पैसे मांगे गए।

काशी: मंगलवार को वाराणसी के छावनी क्षेत्र में एक निर्माणाधीन फ्लाईओवर के एक हिस्से के गिरने से कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र में हुई घटना पर दुख व्यक्त किया और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बचाव अभियान पर चर्चा की। आदित्यनाथ ने इस मामले को देखने के लिए एक समिति बनाई और अधिकारियों से 48 घंटे के भीतर रिपोर्ट जमा करने को कहा। वह बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी ट्रामा सेंटर और कबीर चौरा अस्पताल में इलाज करा रहे घायलों से भी मिले।

इस बीच इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली खबर आई है। दरअसल, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में मृतकों के पोस्टमार्टम के लिए पैसे मांगे गए। एक वर्कर ने मृतक के परिजन से पैसे ना मिलने पर शव को वहीं छोड़ दिया। इस वर्कर के खिलाफ कार्रवाई की गई है और उसे सस्पेंड किया गया है। उसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की गई है।

वाराणसी के SSP आरके भारद्वाज ने कहा, ‘हमें मीडिया के माध्यम से पता चला कि एक स्वीपर ने कुछ लोगों से पोस्टमार्टम के लिए 200 रुपए लिए। हमने एफआईआर दर्ज की है और उसे गिरफ्तार भी किया है।’ सीएम योगी ने बताया कि इस हादसे में 15 की मौत, जबकि 11 घायल हुए हैं।

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *