संपर्क से समर्थन अभियान के तहत तीन लोगों को राहुल गाँधी ने लिखा खत

लोकसभा चुनाव 2019 को देखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है।

नई दिल्ली: 2019 लोकसभा चुनाव की तैयारी में कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पूरे जोर शोर से लग गई हैं। बीजेपी ‘संपर्क से समर्थन’ अभियान चला रही हैं, जिसमें पार्टी के बड़े नेता देशभर में दिग्गज हस्तियों से मुलाकात कर रहे हैं। इसी राह पर चलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी लोगों से मिलने और समर्थन हासिल करने की शुरुआत की है। उन्होंने उत्तर प्रदेश में तीन लोगों को पत्र लिखा है। राहुल गांधी ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज से सस्पेंड किए गए डॉ कफील खान, किसान नेता वीएम सिंह और गाजीपुर के सुनील को पत्र लिखा है।

उत्तर प्रदेश में तीन लोगों- डॉ कफील खान, किसान नेता वीएम सिंह और गाजीपुर के सुनील को पत्र लिखा है।

सुनील, वाराणसी गोरखपुर हाईवे के लिए चल रहे भूमि अधिग्रहण का विरोध कर रहे हैं। कफील खान को पत्र लिखकर राहुल गांधी ने उनके भाई कासिफ जमील पर हुए हमले की निंदा की है और प्रदेश सरकार की कानून व्यवस्था पर निशाना साधा है।

उन्होंने लिखा कि किसी व्यक्ति पर, जो वर्तमान उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ आवाज उठा रहा हो, निर्दयतापूर्ण हमला होना सही नहीं है। ये हमला जहां हुआ वह एक हाई सिक्योरिटी वाला क्षेत्र था, जो कानून व्यवस्था के नाकाम होने का सबूत है। इस हमले में राज्य के अधिकारियों के सहभागिता की जांच होनी चाहिए। डॉ. कफील को ये पत्र वरिष्ठ कांग्रेस नेता आरपी त्रिपाठी ने लखनउ में गुरुवार को दिया। पत्र में बीआरडी कॉलेज में हुए हादसे का भी जिक्र है, जिसमें 60 बच्चों की मौत हो गई।

वहीं राहुल ने किसान नेता वीएम सिंह को लिखे अपने पत्र में कहा है कि केवल गन्ना मिल मालिकों को 7000 करोड़ रुपए की राहत पहुंचाने का कदम काफी निराशाजनक है। उन्होंने लिखा कि मैं सरकार के इस कदम की निंदा करता हूं और विनती करता हुए कि सरकार किसानों को भी राहत दे। वहीं हाईवे को लेकर आंदोलन कर रहे सुनिल को लिखे पत्र में राहुल ने उन किसानों के साथ अपनी संवेदना व्यक्त की है, जो कृषि भूमि बचाओ मोर्चा के तहत शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे हैं। राहुल ने पत्र में कांग्रेस की तरफ से मदद की पेशकश की है।

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *