मुंबई: फड़नवीस सरकार ने मानी किसानों की मांगें, स्पेशल ट्रेन से वापस भेजा जाएगा

मीटिंग से पहले ही मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा था, ‘हम उनकी मांगो को पूरा करने के प्रति सकारात्मक हैं।’

मुंबई: अपनी मांगों को लेकर महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों से पदयात्रा कर मुंबई पहुंचे 35,000 से अधिक किसान जल्द अपना आंदोलन वापस ले सकते हैं। किसानों के प्रतिनिधिमंडल और सरकार के बीच 3 घंटे तक बैठक चली, जिसके बाद सरकार ने किसानों की मांगों को मान लिया है। सरकार ने किसानों को लिखित में आश्वासन दिया है। इसके बाद किसानों ने सरकार को आंदोलन खत्म करने का आश्वासन दिया। कर्ज माफी के लिए कमेठी का गठन किया जाएगा। आंदोलनकारी किसानों को वापस भेजने के लिए रेलवे मुंबई CSMT से भुसावल तक दो स्पेशल ट्रेनें चलाएगा।

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री वी सावरा ने कहा, ‘किसानों की शिकायत है कि जो हमारी जमीन है उससे कम उनके नाम पर है, तो जितनी भी जमीन पर वो खेती कर रहे हैं, वो उनके नाम पर होनी चाहिए। इस पर मुख्यमंत्री राजी है। मुख्य सचिव इसे देखेंगे और कार्यान्वयन 6 माह में शुरू होगा।’

मीटिंग से पहले ही मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा था, ‘हम उनकी मांगो को पूरा करने के प्रति सकारात्मक हैं। किसान मोर्चा के पहले दिन से ही हमनें उनसे कई मुद्दों पर चर्चा करने की कोशिश की। गिरीश महाजन उनके संपर्क में थे पर वे अपने मार्च को लेकर डटे रहे।’ ये किसान छह मार्च को ही नासिक से निकले थे, जो रविवार को मुंबई पहुंचे। किसान फिलहाल मुंबई के आजाद मैदान में एकत्र हैं’।

Post Author: Paayal Malhotra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *