शतक से चूके अजिंक्या और विराट

कप्तान और उपकप्तान ने  इंग्लैंड को हावी होने से रोक दिया

कप्तान विराट कोहली (97) और उपकप्तान अजिंक्या रहाणे (81) की शानदार परियों तथा दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 159 रन की शानदार साझेदारी की बदौलत भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन छह विकेट पर 307 रन का सम्मानजनक स्कोर बना लिया। विराट और रहाणे दोनों ही शतक के करीब जाकर चूक गए।

विराट ज्यादा दुर्भाग्यशाली रहे और नर्वस नाइंटीज का शिकार हो गए, लेकिन दोनों बल्लेबाजों ने भारत को तीन विकेट पर 82 रन की नाजुक स्थिति से उबार लिया। भारत ने टॉस हारने के बाद 60 रन की अच्छी शुरूआत की लेकिन फिर लंच तक अपने तीन विकेट 82 रन पर गंवा दिए।

भारत का चौथा विकेट 241 के स्कोर पर गिरा

कप्तान और उपकप्तान ने दूसरे सत्र में टीम को कोई और नुकसान नहीं होने दिया। उन्होंने इंग्लैंड को हावी होने से रोक दिया। विराट मात्र तीन रन से इंग्लैंड की जमीन पर अपना दूसरा टेस्ट शतक बनाने से रह गए। उन्होंने पहले टेस्ट की पहली पारी में 149 रन बनाए थे। विराट ने 152 गेंदों पर 97 रन की पारी में 11 बेहतरीन चौके लगाए जबकि रहाणे ने 131 गेंदों में 12 चौकों की मदद से 81 रन बनाए।

तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने रहाणे को एलेस्टेयर कुक के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी को तोड़ा। भारत का चौथा विकेट 241 के स्कोर पर गिरा।  कप्तान विराट टीम के 279 के स्कोर पर आउट हुए। विराट को लेग स्पिनर आदिल राशिद ने बेन स्टोक्स के हाथों कैच कराया। विराट इस तरह आउट होने से खुद से निराश नजर आए।

विराट का विकेट गिरने के बाद हार्दिक पांड्या और पदार्पण टेस्ट खेल रहे रिषभ पंत ने मोर्चा संभाला और छठे विकेट के लिए 28 रन की संघर्षपूर्ण साझेदारी की लेकिन दिन के 87 वें ओवर की आखिरी गेंद पर जेम्स एंडरसन ने पांड्या को स्लिप में जोस बटलर के हाथों कैच करा दिया और इसके साथ ही पहले दिन का खेल समाप्त हो गया।

 दूसरे टेस्ट में बाहर हो गए थे शिखर

पांड्या ने 58 गेंदों में चार चौकों की मदद से 18 रन बनाए। पदार्पण टेस्ट खेल रहे पंत ने काफी आत्मविश्वास और सही तकनीक दिखाई। स्टंप्स पर पंत 32 गेंदों में दो चौकों और एक छक्के की मदद से 22 रन बनाकर क्रीज पर हैं।

इससे पहले सुबह के सत्र में मुरली विजय की जगह अंंतिम एकादश में शामिल किए गए बाएं हाथ के ओपनर शिखर धवन और लोकेश राहुल ने भारत को अच्छी शुरूआत दी और दोनों ने पहले विकेट के लिए 18.4 ओवर में 60 रन जोड़े। लेकिन इसके बाद क्रिस वोक्स ने 22 रन के अंतराल पर भारत के तीन विकेट झटक लिए।

वोक्स ने शिखर को जोस बटलर के हाथों कैच कराया, राहुल को पगबाधा किया और चेतेश्वर पुजारा को आदिल राशिद के हाथों कैच किया। इन तीन विकेटों के साथ ही भारत ने अच्छी शुरूआत का एडवांटेज गंवा दिया।

शिखर ने 65 गेंदों में सात चौकों की मदद से 35 रन बनाये। शिखर पहले टेस्ट के बाद दूसरे टेस्ट में बाहर हो गए थे। राहुल ने 53 गेंदों में चार चौकों की मदद से 23 रन बनाए। पुजारा लगातार तीसरी पारी में विफल रहे और 31 गेंदों में दो चौकों के सहारे 14 रन बनाकर आउट हो गए।

भारत ने टीम में तीन बदलाव किए और मध्यम तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव की जगह मौका दिया गया है। इसके अलावा युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को दिनेश कार्तिक की जगह और शिखर धवन को मुरली विजय की जगह टीम में शामिल किया गया। कप्तान विराट ने पंत को उनकी टेस्ट पदार्पण कैप सौंपी।

 

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *