आजादी की किरणे बहुजन समाज के ऊपर भी पड़नी चाहिए : लक्ष्य

अंधविश्वास पर प्रहार

दिनांक 13 अगस्त 2017 : लक्ष्य की लखनऊ महिला टीम ने “लक्ष्य गावं गावं की ओर”  अभियान के तहत एक दिवसीय कैडर कैम्प का आयोजन लखनऊ के काकोरी के गावं चौखडी खेड़ा में आयोजित किया गया । जिसमे गावं के लोगो ने विशेष तौर से महिलाओं ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया ।

इस कैडर कैम्प में लक्ष्य की महिला कमांडरों ने जोरदार सामाजिक चर्चा की और इस चर्चा में गावं की बेटियों ने भी बढ़चढ़कर अपने विचार रखे लक्ष्य की कमाण्डर शशि सिंह ने जोरदार तरीके से अंधविश्वास पर प्रहार किया और उन्होंने  लोगो को  विशेषतौर से महिलाओं को इस अंधकार से बचने की सलाह दी । उन्होंने कहा कि बहुजन समाज के विकास में ये अंधकार एक बहुत बड़ा रोड़ा है अतं हमें इससे बचना  चाहिए ।

लक्ष्य कमाण्डर रेखा आर्या ने शोषण खिलाफ आवाज बुलंद करने को कहा । उन्होंने कहा की आये दिन बहुजन समाज पर अत्याचार होते रहते है लकिन देश प्रदेशो की सरकारे चुप बैठी रहते है और भी दुखद है की बहुजन समाज के नेता भी अपनी जुबान तक नहीं खोलते है ।  उन्होंने कहा कि लक्ष्य इस प्रकार के किसी भी अत्याचारों को सहन नहीं करेगा और इन अत्याचारों के खिलाफ पुरजोर आवाज उठायेगा । लक्ष्य कमाण्डर अंजू सिंह ने बहुजन जनजागरण पर जोर दिया उन्होंने बताया की कैसे लक्ष्य पुरे देश में बहुजन जनजागरण कर एक सामाजिक क्रांति का रूप ले रहा है ।  उन्होंने गावं वासियो से लक्ष्य की टीम में जुड़कर एक मजबूत सामाजिक क्रांति करने की अपील भी की ।

नशा ही बहुजन समाज की दुर्गति

लक्ष्य कमाण्डर राजकुमारी कौशल ने बहुजन समाज के अधिकारों को लेकर जोरदार चर्चा की तथा उन्होंने इस सम्बन्ध में बाबा साहेब डॉ भीम राव आंबेडकर के योगदान की भी विस्तार पूर्वक चर्चा की । लक्ष्य कमांडर बीना गौतम ने बहुजन समाज में नशे को लेकर चर्चा की । उन्होंने बहुजन समाज में बढ़ते नशे की परवर्ती पर दुःख प्रकट करते हुए लोगो से इस से बचने की सलाह दी । उन्होंने कहा की नशा ही बहुजन समाज की दुर्गति का एक बड़ा कारण  है ।

लक्ष्य कमाण्डर संघमित्रा गौतम ने कैडर कैम्प के संचालन की कम्मान संभाली तथा लोगो को विस्तार रूप से  आजादी के अर्थ बताये । उन्होंने प्रश्न करते हुए कहा कि क्या  बहुजन समाज पूर्णरूप से आजाद हुआ है अगर है तो उनके साथ  आज भी भेदभाव,  अमानवीय व्यवाहर, उनकी बेटियों के साथ दुर्व्यहवार, आरक्षण का पूर्ण न होना, उनके पास खेती का न होना, पुलिस दुवारा उनकी रिपोर्ट न लिखना, उनके घरो में आगज़नी होना, बहुजन समाज के लोगो की सामूहिक हत्याएं होना व दोषियों को सजा न मिलना आदि आदि क्यों होते है और सरकारों का बहुजन समाज के प्रति उदासीन होना प्रतीत होता है की बहुजन समाज पूर्णरूप आज नहीं हुआ है । लक्ष्य कमांडर ने मांग करते हुए कहा कि इस आजादी की किरणे इस दबे कुचले बहुजन समाज के ऊपर भी पड़नी चाहिए ।

गावं की बेटी ममता गौतम, मधु गौतम, बबली गौतम, नीलम गौतम आदि ने भी जोरदार सामाजिक चर्चा करके  लक्ष्य की टीम का मन मोह लिया । लक्ष्य के यूथ कमाण्डर इंजीनियर अखिलेश गौतम, अरवी लाल गौतम, सर्वजीत गौतम ने सभी का धन्यवाद किया  तथा काकोरी क्षेत्र  में लक्ष्य को और मजबूत करने का आश्वाशन दिया ।

Post Author: Veethika Bhardwaj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *