इंडियनऑयल ने दुल्हेपुर गाँव में बनाए 150 शौचालय

फरीदाबाद, जुलाई 15, 2019: डॉ. एसएसवी रामाकुमार, निदेशक (आरएंडडी), इंडियनऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने आरएंडडी केंद्र द्वारा कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व कार्यक्रम के तहत प्राथमिक विद्यालय सहित दुल्हेपुर गाँव मे बनाए गए 150 शौचालयों को 15 जुलाई, 2019 को फरीदाबाद में दुल्हेपुर गाँव को औपचारिक रूप से समर्पित किया।

 

इंडियनऑयल आरएंडडी ने विकास से वंचित रहे दुल्हेपुर गाँव मे विकास के अनेक परियोजना को लागू किया है, जिसमे आरएंडडी में विकसित की गई नवीकरणीय ऊर्जा की तकनीक के माध्यम से एक शून्य अपशिष्ट, ऊर्जा तटस्थ मॉडल गाँव के रूप में परिवर्तित किया जाना प्रमुख है । ग्रामवासियों के स्वास्थ्य मानकों में सुधार, साफ-सफाई, स्वच्छता और आत्मनिर्भरता बनाने के दिशा कार्य किए गए  है।

 

इंडियनऑयल आरएंडडी पिछले 3 वर्षों से अपनी कॉर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी के तहत दुल्हेपुर में विकास परियोजनाओं को सक्रिय रूप से लागू कर रहा है।

 

  • स्वच्छ भारत अभियान के सपनों को साकार करने के लिए हर घर की जरूरतों को पूरा करते हुए 150 शौचालयों का निर्माण किया गया है।
  • मवेशियों को पालने वाले सभी घरों में मवेशियों के लिए शेड का निर्माण किया गया है।
  • सरकारी प्राथमिक स्कूल को आवश्यक सुविधाएँ प्रदान की गई हैं, जैसे, लड़कों और लड़कियों के लिए अलग अलग शौचालय का निर्माण किया गया, 30 ड्युअल डेस्क प्रदान किए गए, स्कूल की पूरी इमारत को स्टैंड अलोन सोलर पीवी सिस्टम द्वारा रोशन किया गया है; अतिरिक्त सुरक्षा के लिए मौजूदा चारदीवारी को ऊँचा किया गया है।
  • हर घर में सोलर होम लाइटिंग सिस्टम (2.5 वॉट के 3 लाइट बल्ब, जिनमें मोबाइल चार्जिंग की सुविधा शामिल है) लगाया गया है और इंडियनऑयल ब्रांडेड सोलर लालटेन भी दी गई है।
  • ग्रामवासियों के लिए समय-समय पर स्वास्थ्य जाँच और स्वास्थ के प्रति जागरूकता शिविर आयोजित किए गए हैं।
  • पशुपालन शिविर का आयोजन किया गया है।

Post Author: SAURABH BHARDWAJ

मशहूर पत्रकार सौरभ भारद्वाज पिछले लगभग दो दशक से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय हैं। हिंदुस्तान, दैनिक जागरण, नवभारत टाइम्स जैसे मीडिया संस्थानों में प्रतिष्ठित पदों पर काम करने के बाद श्री भारद्वाज अब वीओएफ मीडिया के समूह संपादक के रूप में जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। राष्ट्रीय युवा पुरस्कार विजेता श्री भारद्वाज अनेक सामाजिक संगठनों के साथ भी जुड़े हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *