देश में पहली हाइड्रोजन फ्यूल सेल बस चली

इंडियनऑयल अनुसंधान एवं विकास केंद्र ने किया विकसित

फरीदाबाद : इंडियनऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड और टाटा मोटर्स लि. ने भारत के पहले हाइड्रोजन फ्यूल सेल बस के प्रदर्शन पूर्वाभ्यास का सफलतापूर्वक संचालन किया। इसका उद्घाटन भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार डॉ. आर चिदंबरम ने किया। इस अवसर पर इंडियनऑयल के अध्यक्ष और निदेशक मंडल के सदस्य भी मौजूद थे। इंडियनऑयल अनुसंधान एवं विकास केंद्र की 47वीं स्थापना दिवस पर 10 मार्च 2018 को फरीदाबाद से इस बस को झंडी दिखा कर रवाना किया गया। इस प्रोजेक्ट के लिए डीएसआईआर और एमएनआरई ने आंशिक आर्थिक सहयोग दिया है।

हाइड्रोजन को आने वाले कल का ईंधन माना जाता है। इस ईंधन तकनीक से उच्च क्षमता हासिल हो सकती है और इसमें केवल पानी एग्ज़ाऑस्ट (उत्सर्जन) होगा। इंडियनऑयल अनुसंधान एवं विकास केंद्र में देश के पहले हाइड्रोजन आपूर्ति केंद्र में वाहनों को लंबी अवधि तक ट्रॉयल में रखा जाएगा ताकि परिवहन के मकसद से फ्यूल सेल तकनीक के टिकाऊ और सक्षम होने का पता चले। इस अवसर पर इंडियनऑयल अनुसंधान एवं विकास केंद्र के फ्यूल सेल लैबरोटरी का भी उद्घाटन किया गया। देश में ऊर्जा शोध में प्रमुख इंडियनऑयल अनुसंधान एवं विकास केंद्र ने डाउनस्ट्रीम पेट्रोलियम सेक्टर में कई अत्याधुनिक तकनीक का योगदान दिया है।

डॉ. आर चिदंबरम, भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार, इंडियनऑयल के अध्यक्ष और निदेशक मंडल के सदस्यों की उपस्थिति में इंडियनऑयल आर एंड डी के 47वें स्थापना दिवस के अवसर पर फ्यूल सेल प्रयोशाला का उद्घाटन करते हुये

Post Author: Veethika Bhardwaj

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *