खट्टर सरकार का छात्र विरोधी चेहरा हुआ उजागर : मुनेश शर्मा

फरीदाबाद। एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री के नेतृत्व में एनएसयूआई फरीदाबाद के अनिश्चितकालीन धरने को आज पांचवा दिन है । आज एनएसयूआई के धरने प्रदर्शनको समर्थन देने के लिए पूर्व मंत्री शिवचरण लाल शर्मा के सुपुत्र मुनेश शर्मा पहुंचे। इस  मौके  पर  मुख्य  रूप  से जिला  उपाध्यक्ष सुनील मिश्रा, आरजीएससी के जिलाध्यक्ष आनंद राजूपत, छात्रनेता विकास फागना, वरुण पंडित आदि मुख्य रूप से मौजूद थे।

इस दौरान मुनेश शर्मा ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि एनएसयूआई के कार्यकर्ता छात्रहितों को लेकर इतनी भारी बारिश में तथा रात में धरने स्थल पर रुके हुए इसके लिएवो बधाई के पात्र है। शर्मा  ने कहा  छात्र जिन  मांगों को लेकर  बैठे हुए है उनमें सिर्फ  एनएसयूआईका फायदा नहीं  है  बल्कि  पूरे फरीदाबाद तथा आस पास के जुड़े जिलो के छात्रों को भी फायदा है।

छात्र एवं युवा विरोधी चेहरा दिखा रही खट्टर सरकार

खट्टर सरकार इन मांगों को न मानकर अपना छात्र एवं युवा विरोधी चेहरा दिखा रही है। भाजपा  सरकार  ने चुनाव से पहले तो  छात्रों एवं युवाओ को लेकर  बड़े  बड़े  वायदे किए थे और  आज उनमे से एक भी पूरा नहीं किया है। उन्होंने  कहा  कि जब  हरियाणा  प्रदेश में भूपेंद्र  सिंह हुड्डा मुख्यमंत्री  थे तथा मेरे  पिता शिवचरण  लाल शर्मा मंत्री थे,  तो उन्होंने एनआईटी  में बिना मांग के एक मेडिकल कॉलेज  तथा हॉस्पिटल एवं एक सरकारी  कॉलेज बनवाया  था  वहीं  दूसरी तरफ खट्टर सरकार है जो छात्रों की मांगों को अनदेखा करके चैन की नींद  सो रही है।

वहीं  मुनेश शर्मा ने एनएसयूआई  के  सभी  छात्रों  को  आश्वासन   दिया  कि कांग्रेस  पार्टी उनके  साथ खड़ी है  तथा जरूरत  पडऩे पर हर  संभव  मदद  भी  करेगी।

इस दौरान एनएसयूआई हरियाणा के प्रदेश सचिव कृष्ण अत्री ने धरने में एनएसयूआई की प्रमुख मांगों पर प्रकाश डाला जोकि इस प्रकार है –

1) सभी सरकारी कॉलेजों में यूजी, पीजी कक्षाओ में 20 प्रतिशत सीट बढ़ाने के लिए।

2) छात्रसंघ चुनाव बहाल तथा प्रत्यक्ष रूप से बहाल करने के लिए ।

3) फरीदाबाद में रीजनल सेंटर बनवाने के लिए ।

4) नेहरू कॉलेज की जर्जर पड़ी इमारत का निर्माण कराने के लिए ।

5) सभी सरकारी कॉलेजो में मूलभूत सुविधाएं एवं स्टाफपूरा कराने के लिए।

6) मैगपाई चौक पर छात्रों को रोड पार कराने के लिएफुटओवर ब्रिज का निर्माण जल्द कराने के लिए।

7) सैमेस्टर प्रणाली बंद हो ।

8) प्रत्येक कॉलेज में छात्रों के लिए वूमैन सेल का गठन ।

इस मौके पर नेहरू कॉलेज अध्यक्ष मोहित त्यागी, कुंज बैसोया, आरिफ खान, सोनू सिंह, गौरव कौशिक, अक्की पंडित, विक्रम यादव, रवि रावत, कन्हैया चौबे, शैंकी, मनीष, नकुल देशवाल, राहुल कौशिक, दीपक, अशोक, शिवम, अंकित, सोनू सैनी, अवतार सिंह, संदीप कोहली, रिंकू तेवतिया, देव सहरावत आदि मौजूद थे ।

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *