फ्रांस, पौलेन्ड और लिथुआनिया में बताई आयुर्वेद की उपयोगिता

डाॅ0 प्रताप चैहान ने आयुर्वेद द्वारा प्रिवेन्टिव हैल्थकेयर विषय पर लिथुआनिया संसद को सम्बोधित किया

फ्रांस, पौलेन्ड और लिथुआनिया के शैक्षणिक दौरे पर गए डाॅ. प्रताप चैहान को लिथुआनिया में सांसदों, सेन्ट्रल हैल्थ कमीशन के प्रमुखों और कई स्वास्थ्य संस्थाओं को संबोधित करने के लिए आमन्त्रित किया गया।

सम्बोधन के दौरान डाॅ. प्रताप चैहान ने बताया कि रोगों की रोकथाम द्वारा राष्ट्र निर्माण में आयुर्वेद की क्या उपयोगिता और संभावना हो सकती है। उन्होंने बताया कि आयुर्वेद के सिद्धान्तों का पालन करते हुए रोगों से कैसे बचा जा सकता है, जिसका सीधा असर स्वास्थ्य पर होने वाले खर्च को कम करने, लोगों की कार्य क्षमता बढ़ाने और देश की उन्नति में भागीदारी पर पड़ेगा। क्रोनिक व लाइफस्टाइल बीमारियाँ जैसे-डायबिटिज, स्ट्रेस, ओबेसिटी, हार्ट डिजीज आज विश्व के सभी विकसित व विकासशील देशों की प्रमुख समस्या बन चुकी है। इस वैश्विक समस्या के लिए आयुर्वेद एक महत्त्वपूर्ण समाधान है।

डाॅ. चैहान ने सभी विशिष्ट नेताओं को जीवा आयुर्वेद द्वारा विगत 25 वर्षों से प्रिसिजन मेड़िसिन और प्रिवेन्टिव हेल्थ केयर क्षेत्र में किए जा रहें कार्यों की जानकारी दी और यह कार्य दिखाने के लिए उनको भारत आने का निमन्त्रण दिया। सम्बोधन के बाद उन्होंने प्रेस व राष्ट्रीय टीवी चैनल्स के सदस्यों से भी बातचीत की।

Post Author: VOF Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *