मतदाता पहचान पत्र के साथ मतदान के लिए 11 अन्य दस्तावेजों का भी विकल्प

टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में लोगों को किया जा रहा है जागरूक

फरीदाबाद। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने बताया कि जिन मतदाताओं के पास मतदाता पहचान पत्र नहीं है । वह मतदाता विभिन्न 11 अन्य दस्तावेजों में से कोई एक दिखाकर मतदान कर सकता है।

उन्होंने बताया कि मतदाता पहचान पत्र के अलावा पासपोर्ट, ड्राईविंग लाईसैंस, हरियाणा सरकार व केंद्र सरकार द्वारा जारी किया गया कर्मचारी पहचान पत्र, बैंक व पोस्ट आफिस की फोटो सहित पासबुक, पैन कार्ड, आरजीआई द्वारा जारी स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, हैल्थ इंश्योरेंस स्मार्ट कार्ड, फोटो सहित पैंशन दस्तावेज, सांसद, विधायक कार्यालय द्वारा पहचान पत्र तथा आधार कार्ड दिखाकर मतदान कर सकता है।
उन्होंने बताया कि लोकसभा आम चुनाव के लिए जिला में 1351 बूथ स्थापित किए गए हैं।

टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में लोगों को किया जा रहा है जागरूक

जिला के आम जन को ईवीएम मशीन, वीवीपैट तथा टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में जागरूक किया जा रहा है। लोगों को लोकसभा आम चुनाव 2019 में पहली बार उपयोग में लाई जाने वाली वीवीपैट के बारे में बताया। उन्होंने टोल फ्री नंबर 1950 के बारे में बताया कि कोई भी मतदाता अपने मत से संबंधित हर प्रकार की जानकारी इस नंबर से प्राप्त कर सकता है।

शराब की बिक्री पर निगरानी रखने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त

जिला निर्वाचन अधिकारी ने लोकसभा आम चुनाव को निष्पक्ष एवं शांति पूर्वक संपन्न करवाने के दृष्टिगत संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं। जिला में चुनाव के दौरान शराब के ठेकों व शराब की बिक्री पर निगरानी रखने के लिए उप आबकारी एवं कराधान आयुक्त आबकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

उन्होंने बताया कि मतदान से 48 घंटे पूर्व मतदान केंद्र क्षेत्र में ड्राई डे घोषित किया जाता है। जिसके तहत किसी शराब की दुकान, होटल, रेस्तरां, क्लब तथा अन्य संस्थान में शराब को बेचना व परोसना प्रतिबंधित रहेगा। आबकारी विभाग के स्टाफ द्वारा जिला व राज्य की सीमा पर आरटीओ कार्यालय द्वारा स्थापित किए गए चैक पोस्टों पर वाहनों की आवाजाही पर भी 24 घंटे निगरानी रखी जाएगी।

इस बारे में अपनी रिपोर्ट भी हर रोज फरीदाबाद के रिटर्निंग अधिकारी व जिला पलवल के जिला निर्वाचन अधिकारी के अतिरिक्त फरीदाबाद डीसीपी पुलिस को भी प्रेषित करेंगे।

जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा आदर्श चुनाव आचार संहिता के दौरान सरकारी कर्मचारियों के लिए भी हिदायतें जारी की गई हैं। इन हिदायतों के अनुसार कोई भी सरकारी कर्मचारी किसी राजनैतिक दल या राजनीति में भाग लेने वाले किसी संगठन का न तो सदस्य हो सकता है और न ही इनसे संबद्ध रह सकता है।

जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा चुनाव प्रक्रिया के दौरान वाहनों के दुरूपयोग को रोकने के संदर्भ में भी हिदायतें जारी की गई हैं। इन हिदायतों में आदर्श चुनाव आचार संहिता के दौरान राजनीतिक पार्टियों और उम्मीदवारों के काफिले में सुरक्षा वाहनों सहित 10 वाहनों से ज्यादा वाहन नही चल सकते हैं। ऐसे किसी काफिले में शामिल होने वाले वाहनों तथा उनकी पहचान बारे सूचना भी राजनीतिक पार्टियों व उम्मीदवारों को जिला प्रशासन को प्रेषित करनी होगी।

Post Author: abha soni

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *