जेसीबी भारत में 650 करोड़ रुपये का करेगी निवेश

गुजरात में अपनी छठी फैक्ट्री करेगी स्थापित

नई दिल्ली। जेसीबी भारत में नए संयंत्र की स्थापना पर 650 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। कंपनी देश में निर्माण के 40 वर्षों का उत्सव मनाने के लिए तैयार है।
नई फैक्ट्री गुजरात के वडोदरा में स्थापित की जायेगी और यहां वैश्विक उत्पादन संयंत्रों के लिए पार्ट्स का निर्माण किया जायेगा। इस नये संयंत्र के साथ, कंपनी ने अपनी बढ़ती मांग को पूरा करने की तैयारी की है।

जेसीबी के चेयरमैन लॉर्ड बैमफोर्ड ने इस नए संयंत्र की आधारशिला रखी, जोकि भारत में जेसीबी की छठी फैक्ट्री होगी। जेसीबी के लिए भारत 2007 से ही काफी बड़ा बाजार रहा है। यह घोषणा यूके के स्टेफोर्डशायर के यूटोएक्सटर में जेसीबी मशीनों के लिए कैब बनाने की 50 मिलियन पाउंड की फैक्ट्री के काम की शुरुआत के बाद की गई है, जिसे इस साल पूरा कर लिया जाएगा।

लॉर्ड बैमफोर्ड ने कहा, “यूके और भारत में अपने निवेश के साथ हम भविष्य में निर्माण क्षेत्र में अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए काफी सुदृढ़ स्थिति में हैं। इस साल हम जेसीबी इंडिया के 40 वर्ष पूरे होने का उत्सव मना रहे हैं और इन 4 दर्शकों में हमारी सफलता का श्रेय कंपनी द्वारा किये गये निरंतर निवेश को जाता है। यह बिल्कुल उपयुक्त है कि हम भारत में अपनी मौजूदगी की 40वीं सालगिरह की शुरुआत एक ऐसी फैक्ट्री में निवेश से कर रहे हैं, जो हमारी निर्माण क्षमता को कई गुना बढ़ाएगी।”

जेसीबी इंडिया की पहले ही भारत में दिल्ली, पुणे और जयपुर में फैक्ट्रियां हैं। वडोदरा में हलोल- के 44 एकड़ क्षेत्र में फैली इस नई फैक्ट्री में उत्पादन अगले साल शुरू होगा। इसमें आधुनिक लेजर कटिंग, वेल्डिंग और मशीनिंग टेक्नोलॉजी की नई तकनीक इस्तेमाल की जाएगी। यह पूरी तरह फोर्क-लिफ्ट फ्री ऑपरेशन होगा। इसमें सालाना 85 हजार टन स्टील के प्रसंस्करण की क्षमता होगी।

जेसीबी इंडिया के एमडी और सीईओ विपिन सोंधी ने कहा, “यह नई फैक्ट्री जेसीबी की दुनिया भर में मौजूद कई फैक्ट्रियों के लिए इंजीनियर्ड कंपोनेंट्स एवं सब-एसेंबलीज का उत्पादन करेगी। यह फैक्ट्री भारत में हमारे मौजूदा फैक्ट्रियों की क्षमता भी बढ़ायेगी। वडोदरा सूरत बंदरगाह और हमारे प्रमुख सप्लायर्स के नजदीक है जिससे हमें लाभ मिलेगा।”

Post Author: abha soni

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *