ग्रामीण बैंक में भ्रष्टाचार पर चुप है बीजेपी सरकार

चंडीगढ़ : सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक में व्यापत कुप्रबन्धन व भ्रष्टाचार अपने चरम पर है। केन्द्र व राज्य में बीजेपी सरकार वर्ष 2014 से शासन में है और भ्रष्टाचार में जीरो टोलरेंस पॉलिसी की घोषणा के बावजूद सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक रोहतक में प्रबन्धन के भ्रष्टाचार पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। गुडग़ांव ग्रामीण बैंक वक्र्स आरगेनाईजेशन व सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक अधिकारी संगठन के मुख्य कॉर्डिनेटर मुकेश जोशी बार-बार बैंक के कुप्रबन्धन व भ्रष्टाचार को विभिन्न जांच एजेंसियों व मीडिया के माध्यम से उजागर कर रहे हैं, परन्तु राज्य व केन्द्र सरकार की जांच एजेंसियाँ आँख मूंद कर बैठी हैं।

सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक प्रबन्धन के द्वारा पदोन्नति व नई भर्ती में वर्ष 2012 से ही भारत सरकार के दिशा निर्देशों की अवहेलना जारी है। वर्ष 2012 में वर्तमान मुख्य प्रबन्धक मानव संसाधन मुरलीधर अरोड़ा को स्केल 2 से 3 बनाने के लिए एक कमेटी बनाकर पदोन्नति के नियमों में हेराफेरी कर अनुचित लाभ दिया गया। बैंक के बोर्ड के द्वारा 24.06.2011 पदोन्नति के उलजुलूल नियम तय किये गये। बैंक के चेयरमैन व कमेटी के द्वारा दिनांक 27.07.2011 को इन नियमों को मनमर्जी से बदल दिया गया ताकि मुरलीधर अरोड़ा की पदोन्नति की जा सके। यह प्रक्रिया आज भी जारी है। बैंक के द्वारा प्रतिवर्ष पदों की घोषणा नहीं की जाती जिससे पारदर्शिता दिखे। यहीं से भ्रष्टाचार की शुरूआत होती है।

 

चीफ कोर्डिनेटर मुकेश जोशी द्वारा शिकायत किए जाने पर पर बैंक के महाप्रबन्धक राजेश गोयल ने वर्ष 2017 के बाद की जांच कराकर अपने चहेतों को बचाने के लिए लीपापोती कर दी जबकि यदि जांच 2012 से कराई जाती तो अरबों के घोटाले सामने आते।

350 करोड़ का घाटा है छुपाने की कोशिश जारी

अभी हाल में जानकारी मिली है कि बैंक प्रबन्धन जिसमें चेयरमैन व महाप्रबन्धक शामिल हैं, बैंक के वित्तीय घोटाले को ऑडिटर के साथ मिलकर छुपाते हुए अपने निजी फायदे के लिए अरबों रूपये का आयकर पिछले 5 वर्षों में जमा कर दिया। इस वर्ष लगभग ३५० करोड़ का घाटा है जिसे ऑडिटर पर दबाव / गुमराह करके छुपाने की कोशिश जारी है। मुकेश जोशी के द्वारा प्रधानमंत्री, भारत सरकार, मुख्यमंत्री हरियाणा सरकार, डीजीपी हरियाणा पुलिस ;सतर्कताद्ध, एसपी रोहतक, सीबीआई बैंकिंग, सीवीसी व आरबीआई से अपनी शिकायतों पर निष्पक्ष जांच का अनुरोध किया है। जो भी उच्च अधिकारी इन भ्रष्टाचार में लिप्त है उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 166ए, 218, 420, 120बी आदि के तहत उचित कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।

मुकेश जोशी
चीफ कोर्डिनेटर,
गुडग़ांव ग्रामीण बैंक वक्र्स ऑर्गेनाईजेशन व
सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक, ऑफिसर्स ऑर्गेनाईजेशन
9810347532

Post Author: SAURABH BHARDWAJ

मशहूर पत्रकार सौरभ भारद्वाज पिछले लगभग दो दशक से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय हैं। हिंदुस्तान, दैनिक जागरण, नवभारत टाइम्स जैसे मीडिया संस्थानों में प्रतिष्ठित पदों पर काम करने के बाद श्री भारद्वाज अब वीओएफ मीडिया के समूह संपादक के रूप में जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। राष्ट्रीय युवा पुरस्कार विजेता श्री भारद्वाज अनेक सामाजिक संगठनों के साथ भी जुड़े हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *